मूल या बुलडॉग [फोटोग्राफीः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

A Root or a Bulldog?

Photo: Oasis Thacker

कुदरत कभी कभी उसके सर्जन से असाधारण चित्रकृति या स्थापत्य बनाती है, जो अन्य कोई आकार के सदृश दिखते हैं . व्रुक्ष के मूल या तने से बनते आकार, बादल में बनते आकार, चट्टानों के आकार उस के उदाहरण है.

हमारे डालास, टेक्सास [यु.एस.ए.] के निवास को चिपक कर एक मनुष्य-सर्जित नदीके किनारे उगे हुए एक पेड के मूल का यह फोटोग्राफ मैने पांच साल पहले लिया था. यह बुलडॉग से कितना मिलता जुलता है? जुसी नदी की दूसरी दो तस्वीरें आपने मेरे ब्लोग पर देखी होगी. . [Garden-Grown Duck. Backyard River ]

————————————————————————————————————

Read this in English:             ગુજરાતીમાં વાંચો

—————————————————————————————————————

Bhoori-ShahiNa Kuva Kanthe Jambudi KshanNa Prashna Padre AasopalavNi Dale
O Raaj Re DewDrops on the Oasis Bhoori ShahiNa Khalkhal

About Ghanshyam Thakkar

Music Composer, Music Arranger, Music Producer, Poet, Lyricist, Blog Editor, Audio Recording and Mixing Artist, Web-page Design Artist, Electrical Engineer(B.E.), Project Manager
This entry was posted in Art, Club Oasis, Ghanshyam Thakkar, Hindi Literature, Oasis Thacker, Photo, Photo Gallery, Photography, घनश्याम ठक्कर, तस्वीर, फोटोग्राफीः, हिन्दी गद्य, ઘનશ્યામ ઠક્કર, ફોટોગ્રાફ, ફોટોગ્રાફી and tagged , , , , , , , . Bookmark the permalink.

2 Responses to मूल या बुलडॉग [फोटोग्राफीः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

  1. Pingback: मूल या बुलडॉग [फोटोग्राफीः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस) | कलापीकेतन

  2. Pingback: मूल या बुलडॉग [फोटोग्राफीः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)] | कलापीकेतन

Leave a Reply

Your email address will not be published.