घूमर सोंग रानी – पद्मावती -इंस्ट्रुमें’टल – घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

Instrumental Remix
Film: Rani Padmavati
Original Score: Sanjay Leela Bhansali
 This original Goomar folk song from Rajasthan is recreated by composer Sanjay Leela Bhansali very beautifully in film Rani Padmavati. Both singers, Swaroop Khan and Shreya Ghoshal have done wonderful job.I like folk music from all the parts, but obviously Gujarati folk music is my favorite. Rajasthan folk music is second. Gujarat and Rajasthan share same boarder, so some folk music is also similar.
Posted in Bollywood Oasis, Dance Music, geet, Ghanshyam Thakkar, ghoomar, Hindi Song, Instrumental Music, Instrumental Remix, MP3, MP4, Music, Oasis Thacker, Oasis-Music, Sangeet, Video, You Tube Video, youtube, इन्स्ट्रुमेंटल वाद्य रिमिक्स, इंस्ट्रुमेंटल, इंस्ट्रुमेंटल म्यूजिक, घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस) | Leave a comment

મયઓસ થૈ માલ્કોસ પથરાઈ ગયો ગાયા પછી, ગઝલ ઘનશ્યામ ઠક્કર(ઓએસીસ)

ગઝલ

 

પ્રા .મધુસૂદન કાપડિયા વિવેચનઃ ‘ગઝલ – મયઓસ થૈ માલ્કોસ…. કવિ ઘનશ્યામ ઠક્કર(ઓએસીસ)

My Poetry

My Music

My Videos

Top video 83000 hits on youtube and counting, plus ???? Mp3 hits

Man Dole Mera Tan Dole (Instrumental Snake-Charmer Music) – Oasis Thacker [Ghanshyam Thakkar]

Posted in Gazal, Ghanshyam Thakkar, Gujarati Blog, Gujarati Gazal, Gujarati Kavita, Gujarati Literature, Gujarati Poetry, Jambudi KshanNa PrashnaPadre, Jambudi KshnNa PrashnPadare, Kavita, MP3, MP4, Music, Oasis Thacker, Oasis-Poetry, Poem, Poetry, घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), કવિતા, ગઝલ, ગુજરાત, ગુજરાતી કવિતા, ગુજરાતી ગઝલ, ગુજરાતી સાહિત્ય, ઘનશ્યામ ઠક્કર, જાંબુડી ક્ષણના પ્રશ્નપાદરે | Tagged , , | Leave a comment

हेप्पी कार्तिक पूर्णिमा [वौठा के मेले में धडकते मनोरथ……] गीत और संगीतः घनश्याम ठक्कर

 पोरा पै दे तु

PLAY MP3 >>

Mela

Vautha na Melaa maan

गीत और संगीतः  घनश्याम ठक्कर

स्वरः किशोर मनराजा, जयश्री भोजविया और साथी

जो गुजराती गीत आप सुनने वाले है, उस के कुछ शब्द का हिन्दी भाषांतर इस प्रकार हैः

वौठा के मेले में धडकते मनोरथ,

नैनों के सौदागर, दिल को चुराते,

छैला, मेरा हाथ पकडके मुझे मेलेमें ले जा,

कि मेरी जवानी पूरी तरह से छूछी गुजर रही है.

१९९६-९७ में मैने यह धमाके से भरा गीत लिखा, उस की वैसी ही ्धमकती धुन बनायी, और गीत के सब वाजिन्र और रिधम दिल खोल कर बजाये, तब मैं पचास साल का था! मैं प्रामाणिकता से कह सकता हूं कि उस समय मेले में जा कर झूमने-घूमने के कोई ख्वाब नहीं देख रहा था. तो फिर ऐसा जोशीला आनन्दातिरेक आया कहांसे? जवाब हैः बचपन की स्मृतियों.

मेरी जिंदगी के पहले दस-ग्यारह साल गुजरात के खेडा जिले के एक छोटे से गांव ‘देथली’ में बीते थे. १९५० की आसपास, अभी सर पर मटकी रख कर पानी भर के ठुमक ठुमक चलने वाली सुंदर पनिहारीयों के, या बैल-गाडी चलाते किसानों के नजारे कवि की कल्पना के भावचित्र नहीं थे, बल्कि, मेरी हररोज की दिनचर्या से जुडे चित्र थे.

मेरे गांवसे कुछ पंद्रह किलो मीटर की दूरी पर, एक घूंट पानी की छोटी सी सात नदियों के संगम पर, वौठा गांव के मैदानमें हर कार्तिकी पूर्णिमा के समय पर मेला लगता है. हालांकि यह मेला बहुत बडा नहीं है, यह मेरे बचपन का एक अमूल्य हिस्सा है. मानसून की कड़ी मेहनत और अकेलेपन के बाद किसान कुछ मस्ती के लिए तैयार हो जाते हैं. बनिये की दुकान से नयी धोती और पगरी ला कर गांव की सुंदर गोरीयों पर एक-दो नजर भी लगा लेते थे.
लडकियों की तो बात ही और थी. नया घाघरा-चोली और ओढ़नी.
कोहनी तक हाथ भर जाय इतनी रंगबिरंगी कांच की चुडियां. लडकियों, औरतों का पागलपन यह थाः भले हाथ क्युं न कट जाय, कुछ चुडियां तूट क्युं न जाय,
लेकिन चुडियां एकदम छोटी होनी जरूरी थी.
मालुम नहीं क्यों. मेरी माताजी की छोटीसी किराने की दुकान थी, और वह लडकियों को छोटी चुडियां पहनाने के लिये मशहूर थी. हमारी दुकान के बरामदे पर चुडियों के लिये सुंदर लडकियों की भीड जम जाती थी. कुछ असुविधा भी होती थी. लेकिन यह छोटा सा कवि-दिल उस उम्रमें भी कन्याओं के सौंदर्य का चाहक था. मुझे कोई शिकायत नहीं थी.

पूर्णिमा के एक दो दिन पहले, भोर होने से पहले, गुलाबी ठंड की मझा लेते हुए किसान अपनी बैल गाडीयों सजाके मेले में जाने के लिये निकल पडते थे. हम व्यापारीओं के यहां बेलगाडीयां नहीं थी, लेकिन हमें कोई भी पड़ोसी किसान की बेलगाडीमें बैठ कर जाने का आमंत्रण मिलता था. उन दिनों में, जब गांव में बीजली, रेडियो या मनोरंजन के कोई साधन नहीं थे, तब मेले की वह भीड, तम्बू में लगे भुजिया-चाय के रेस्तरां, हिंडोले, रोलर-कोस्टर, यह सब जिवन में एक नयी ताजगी दे देते थे.

मेरे सब बच्चे अमरिका में पैदा हुए है, और वहीं बडे हुए है. वहां भी मेले तो लगते हैं. डालास, टेक्सास, जहां मेरा अमरिका का मुख्य निवास था, हर साल ‘स्टेट फेर ओफ टेक्सास’, लगता है. लेकिन वहां कार में जाते थे. वहां भी राईड तो होती है, लेकिन बडी. भुजिया के बदले में होट-डोग, हेम्बरगर, बार-बी-क्यु जैसी चीजें खाने के लिये मिलती है. यह वार्षिक मेले के अलावा सिक्स-फ्लेग्स नाम के थीम पार्क में तो हररोज मेला लगता है. वच्चों की कई सालगिराएं थीम पार्क में मनायी थी. कभी कभी डिझनीलेंड और डिझनी वर्ल्ड को भी जाते थे.

लेकिन बौठा के मेले के साथ उनकी तुलना नहीं हो सकती है. अब तो भारतमें भी छोटे गांवो में टी.वी. आ गये हैं, और गरीब लोग भी सेल-फोन पर संगीत सुन सकते हैं. इस लिये मेले में जाने का जो रोमांच हमें
मिलता था, अब नहीं मिल सकता है.

अगर आप आज वौठा के मेलेमें नहीं हो तो कोई बात नहीं है. मैं भी नहीं गया हूं. लेकिन अपने कम्प्युटर से स्पीकर जोडकर, वौठा के मेले का यह गीत बजा कर, जरूर नाचना.

घनश्याम ठक्कर.

============================

My Poetry

My Music

My Videos

Top video 83000 hits on youtube and counting, plus ???? Mp3 hits

Man Dole Mera Tan Dole (Instrumental Snake-Charmer Music) – Oasis Thacker [Ghanshyam Thakkar]

Posted in Dev Diwali, कार्तिक पूर्णिमा, गीत और संगीतः  घनश्याम ठक्कर, દેવદિવાળી | Tagged , , , | Leave a comment

डरावनी हेलोवीन मुबारक (डरावना संगीत और कंप्युटर आर्ट : घनश्याम ठक्कर (ओएसीस) Ghanshyam Thakkar (Oasis)

आशा है आपकी हेलोवीन सब से डरावनी हो

Have a Very Scary Halloween

Ghanshyam Thakkar looks like this 364 Days

Ghanshyam looks like this on Halloween

 Scary Music & Computer Art – Oasis Thacker

=====================================

My Poetry

My Music

My Videos

Top video 80,780 hits on youtube and counting, plus ???? Mp3 hits

Man Dole Mera Tan Dole (Instrumental Snake-Charmer Music) – Oasis Thacker [Ghanshyam Thakkar]

Posted in Bollywood Oasis, computer art, Dance Music, Ghanshyam Thakkar, Halloween, Happy Halloween, Instrumental Music, MP3, Music, Oasis Thacker, Oasis-Music, Sangeet, इंस्ट्रुमेंटल, इंस्ट्रुमेंटल म्यूजिक, गीत और संगीतः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), वाद्य संगीत, संगीत, हॅप्पी हॅलोवीन | 1 Comment

हेप्पी दीपावली (अय मालिक तेरे मालिक बंदे हम [शहनाई -सिन्थ]) – घनश्याम ठक्कर (ओएसीस) Ghanshyam Thakkar (Oasis)

सभी दोस्तो को दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं और नूतन वर्ष मुबारक.
घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

हमारे दो वाद्य, शहनाई और सितार, प्रसंग को मंगलमय बना देते हैं.  मुझे यह बात की खुशी है कि आप सुनने वाले है वह शहनाई न सिर्फ मैंने सिन्थसाइझ्रर पर बजाई है, मैने खुदने वाद्य बनाय है. और वाजिन्त्र और रिधम भी मैं गीत के अनुरूप प्रोग्राम करता हूं.

वसंत देसाई जैसे महान संगीतकार और भरत व्यास जैसे महान गीतकार भरत व्यास की मूल रचना को स्वर किन्नरी लता मंगेशकर ने गाया है, और गीत अमर हो गया है. कलागुरु शान्ताराम की महान फिल्म ‘दो आंखे बारह हाथ’ में संध्या ने गीत को अभिनय दिया है.

Aye Malik Tere Bande Hum

Instrumental Remix (Shehnai Synth)

Play Mp3 Audio

Play Youtube Video

Posted in Bollywood Oasis, Diwali, Ghanshyam Thakkar, Happy Diwali, Instrumental Music, Instrumental Remix, Movie, MP3, MP4, Music, Oasis Thacker, Oasis-Music, Sangeet, Uncategorized, Video, You Tube Video, youtube, इन्स्ट्रुमेंटल वाद्य रिमिक्स, इंस्ट्रुमेंटल, इंस्ट्रुमेंटल म्यूजिक, घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), दिवाली, दीपावली, दीवाली, वाद्य रिमिक्स, वाद्य संगीत, वाद्य संगीत रिमिक्सः, विडियो, संगीत, हेप्पी दिवाली, ઘનશ્યામ ઠક્કર, યુ ટ્યુબ વિડિયો, વિડિયો, હેપ્પી દિવાળી | Tagged , , , , , , , , , , | 1 Comment

બાકીનો બધો તણાઈ’ગ્યો સુવાસમાં! (ગઝલ) – ઘનશ્યામ ઠક્કર(ઓએસીસ)

ગઝલ

==========================

Photo by Oasis Thacker

घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

Ghanshyam Thakkar [Oasis]

=========================================

My Poetry

My Music

My Videos

Posted in Gazal, Ghanshyam Thakkar, Gujarati Blog, Gujarati Gazal, Gujarati Kavita, Gujarati Literature, Gujarati Poetry, Jambudi KshanNa PrashnaPadre, Oasis Thacker, Oasis-Poetry, Poem, Poetry, घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), કવિતા, ગઝલ, ગુજરાત, ગુજરાતી કવિતા, ગુજરાતી ગઝલ, ઘનશ્યામ ઠક્કર, જાંબુડી ક્ષણના પ્રશ્નપાદરે, સાહિત્ય | Tagged , , , , , , , | 1 Comment

गांधीजी के जन्मदिवस पर – घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

भारत के युगपुरुष को कोटी कोटी प्रणाम २ अक्नुबर

वैष्नवजन तो उसको कहें

Vaishnava-Jan To Usko Kahe

Play

Sitar and Piano (synth)

 

gandhiGlowingEdges400

Computer Art: Ghanshyam Thakkar

Gandhi’s most favorite Prayer-Song Written by Narsinh Mehta

गांधीजी का सबसे प्रिय, नरसिंह महेता रचित,
गुजराती भजन का छंदोबद्ध भावानुवाद और संगीत रिमिक्स

घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

Ghanshyam Thakkar [Oasis]

=========================================

My Poetry

My Music

My Videos

Posted in Bollywood Oasis, Gandhi, Ghanshyam Thakkar, Gujarati Music, Happy Gandhi Jayanti, Instrumental Music, Instrumental Remix, MP3, Music, Oasis Thacker, Oasis-Music, Poem, Poetry, Sangeet, इन्स्ट्रुमेंटल वाद्य रिमिक्स, इंस्ट्रुमेंटल, इंस्ट्रुमेंटल म्यूजिक, गांधी, गांधीजी, गीत और संगीतः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), वतनप्रेम, वाद्य संगीत, वाद्य संगीत रिमिक्सः, संगीत, ગાંધીજી, ગુજરાતી સંગીત, ગુજરાતી સાહિત્ય, ઘનશ્યામ ઠક્કર | 1 Comment

Nonstop 30 Minute Dandiaras 2 (Album ‘O Raaj Re’ – Music : Ghanshyam Thakkar

Friends I hope you enjoyed your Navratri Parv. On last day of Navratri and for Vijay Dashmi I am broadcasting Side 2 of my nonstop Dandiaras So if you are at home connect your computer to speakers, and have some home dancing!

O Raaj Re  ઓ રાજરે  ‘ओ राजरे’ रास -2-

Play>>

– घनश्याम ठक्कर

[३० मिनिट नोनस्टॉप डांडियारास सुपरब्लास्ट]

ઓ રાજ રે આલ્બમ [નોંસ્ટોપ ૩૦ મિનિટ્સ સાઇડ ૨] – ઘનશ્યામ ઠક્કર

કિશોર મનરાજા, જયશ્રી ભોજવિયા

Music: Ghanshyam Thakkar (Oasis Thacker Lyrics: Folk Songs and
Ghanshyam Thakkar
Singers: Kishore Manraja, Jayshree Bhojaviya,
Devyani Bendre & Chorous

O Raaj Re -Ghanshyam Thakkar


નવરાત્રિનાં વધામણાં

Dandiyaras

ડાંડિયા રાસ

My Poetry

My Music

My Videos

Posted in AasopalavNi Dale, Bollywood Oasis, Damyanti Bardai, Dance Music, Dandiaraas, Dandiya Raas, Dandiyaraas, Garba, Ghanshyam Thakkar, Gujarati Music, Happy Navratri, Happy Vijayadashami, Kishore Manraja, MP3, Music, O Raaj Re, Oasis Thacker, Oasis-Music, Sangeet, आसोपालव नी डाळे, ओ राज रे, गरबा, गीत और संगीतः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), जयश्री भोजविया, डांडिया रास, डांडियारास, विजयादशमी, विजयादशमी की शुभकामनाएं, हेप्पी नवरात्रि, हेप्पी विजयादशमी, ઓ રાજ રે, ગુજરાત, ગુજરાતી સંગીત, ઘનશ્યામ ઠક્કર, ડાંડિયા રાસ, ડાંડિયારાસ, દાંડિયા રાસ, દાંડિયારાસ, સંગીત, હેપ્પી દશેરા, હેપ્પી નવરાત્રી | 1 Comment

ओ रंग रसिया (डांडियारास) संगीतः घनश्याम ठक्कर

(ડાંડિયારાસ)

O Rang Rasiya (Dandiya Raas) – Ghanshyam Thakkar (Oasis Thacker)

સંગીતઃ ઘનશ્યામ ઠક્કર

સ્વર:દમયંતી બરડાઈ, કિશોર મનરાજા અને વૃંદ

O Raaj Re - Ghanshyam Thakkar

નવરાત્રિનાં વધામણાં

Dandiyaras

ડાંડિયા રાસ

My Poetry

My Music

My Videos

Posted in AasopalavNi Dale, Bollywood Oasis, Damyanti Bardai, Dance Music, Dandiaraas, Dandiya Raas, Dandiyaraas, Garba, Ghanshyam Thakkar, Gujarati Blog, Gujarati Music, Gujarati Net, Happy Navratri, Kishore Manraja, MP3, Music, O Raaj Re, Oasis Thacker, Oasis-Music, आसोपालव नी डाळे, ओ राज रे, किशोर मनराजा, गीत और संगीतः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), डांडिया रास, डांडियारास, प्रेम, प्रेम-गीत, संगीत, हेप्पी नवरात्रि, આસોપાલવની ડાળે, ઓ રાજ રે, ગરબા, ગુજરાત, ગુજરાતી સંગીત, ઘનશ્યામ ઠક્કર, ડાંડિયા રાસ, ડાંડિયારાસ, દાંડિયા રાસ, દાંડિયારાસ | Tagged | Leave a comment

मेंदी रंग लाग्यो (हेप्पी नव्ररात्री) संगीतः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस)

મેંદી રંગ લાગ્યો   

  Mehndi Rang Lagyo

Play>>

Music Composer : Oasis Thacker

Singer: Damyanti Bardai & Chorous

સ્વરઃ દમયંતી બરડાઈ અને વ્રુંદ

સંગીકાર અને વાદક: ઘનશ્યામ ઠક્કર

Music Composer and Performer: Ghanshyam Thakkar [Oasis Thacker]

You have heard the song from my album O Raaj Re ઓ રાજરે  with Damyanti Bardi’s beautiful voice.  Here is the same song with same background music in instrumental form.
Oasis Thacker
This is the place where I composed ‘O Raaj Re’, and ‘AasopalavNi Dale Albums’ including writing many of the lyrics [1997].

Posted in AasopalavNi Dale, Bollywood Oasis, Club Oasis, Damyanti Bardai, Dance Music, Dandiaraas, Dandiya Raas, Dandiyaraas, Garba, Ghanshyam Thakkar, Gujarati Blog, Gujarati Kavita, Gujarati Music, Gujarati Net, Happy Navratri, Hindi Blog, Hindi Net, Instrumental Music, Instrumental Remix, MP3, Music, Navratri, O Raaj Re, Oasis Thacker, Oasis-Music, Raas, Sangeet, आसोपालव नी डाळे, इन्स्ट्रुमेंटल वाद्य रिमिक्स, इंस्ट्रुमेंटल, इंस्ट्रुमेंटल म्यूजिक, ईन्स्ट्रुमेंटल रिमिक्स, ओ राज रे, गरबा, गीत और संगीतः घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), घनश्याम ठक्कर, घनश्याम ठक्कर (ओएसीस), डांडिया रास, डांडियारास, नवरत्रि, प्रेम, प्रेम-गीत, वाद्य रिमिक्स, वाद्य संगीत, वाद्य संगीत रिमिक्सः, संगीत, हिन्दी नेट, हिन्दी ब्लोग, हेप्पी नवरात्रि, ઓ રાજ રે, ગુજરાતી નેટ, ગુજરાતી બ્લોગ, ગુજરાતી સંગીત, ઘનશ્યામ ઠક્કર, નવરાત્રી, મેંદી રંગ લાગ્યો, વાદ્યસંગીત, સંગીત, હેપ્પી નવરાત્રી | Tagged , , , , , , , , , , , , , , | Leave a comment